Saturday, 25 February 2017

भारतीय वन सेवा के 16 अधिकारी पदोन्नत

भारतीय वन सेवा के 16 अधिकारी पदोन्नत

राज्य शासन ने भारतीय वन सेवा के 16 अधिकारी को पदोन्नत करते हुए नवीन पद-स्थापना आदेश जारी किये हैं। इनमें 05 अधिकारी को मुख्य वन संरक्षक से अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक, 05 को वन संरक्षक से मुख्य वन संरक्षक और 06 को उप वन संरक्षक से वन संरक्षक के पद पर पदोन्नत किया गया है। वन-विहार राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र के संचालक डॉ. अतुल कुमार श्रीवास्तव को पदोन्नत कर उनकी सेवाएँ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में संचालक राजीव गांधी जल-ग्रहण क्षेत्र प्रबंधन मिशन में प्रतिनियुक्ति पर सौंपी गयी हैं। अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक के पद पर पदोन्नति के बाद राकेश कुमार यादव को आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी प्रतिनियुक्ति पर, अमिताभ अग्निहोत्री को डायरेक्टर नेशनल ज्यूलॉजिकल पार्क नई दिल्ली प्रतिनियुक्ति पर, रमेश कुमार श्रीवास्तव को प्रमुख सलाहकार मध्यप्रदेश राज्य योजना आयोग भोपाल प्रतिनियुक्ति पर और कमलेश चतुर्वेदी को अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक, समन्वय भोपाल पदस्थ किया गया है। वन संरक्षक से मुख्य वन संरक्षक पद पर पदोन्नति के बाद डी.के. अग्रवाल को शिवपुरी, अशोक कुमार सिंह को होशंगाबाद, आर.एस. अलावा को बैतूल, केशव सिंह और के.पी. शर्मा को कार्यालय प्रधान मुख्य वन संरक्षक भोपाल पदस्थ किया गया है। उप वन संरक्षक से वन संरक्षक पद पर पदोन्नति के बाद अमित कुमार दुबे को ग्वालियर, प्रभात कुमार वर्मा को भोपाल, नरेन्द्र कुमार सनोड़िया को नरसिंहपुर, वाय.पी. सिंह को धार, चौकसिंह निनामा को श्योपुर और डी.एस. कनेश को राजगढ़ वन मण्डल में पदस्थ किया गया है।

वन विभाग में 21 अधिकारियों के तबादले

वन विभाग में 21 अधिकारियों के तबादले

राज्य शासन ने भारतीय वन सेवा के 21 अधिकारी का तत्काल प्रभाव से स्थानांतरण करते हुए नवीन पद-स्थापना आदेश जारी किये हैं। अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक में निरंकार सिंह को प्रतिनियुक्ति पर राज्य लघु वनोपज संघ, रमेश कुमार गुप्ता को (कार्य आयोजना) भोपाल, श्रीमती हेमावती बर्मन को लघु वनोपज संघ, आनंद कुमार को (उत्पादन), अतुल कुमार जैन को राज्य वन विकास निगम, चितरंजन त्यागी की सेवाएँ प्रमुख सलाहकार मध्यप्रदेश योजना आयोग में प्रतिनियुक्ति पर सौंपी गयी हैं। मुख्य वन संरक्षक में विश्राम सागर शर्मा को इंदौर, महेन्द्र सिंह धाकड़ को सचिव वन विभाग, एच.यू. खान को सागर, श्रीमती समिता राजौरा को क्षेत्र संचालक वन विहार राष्ट्रीय उद्यान, केप्टन अनिल कुमार खरे को विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी वन विभाग भोपाल और के.एस. अलावा को छतरपुर स्थानांतरित किया गया है। वन संरक्षक मनोज अर्गल को सीहोर वन मण्डल और आनंद कुमार सिंह का तबादला जबलपुर किया गया है। उप वन संरक्षक ए.के.एस. चौहान को वन मण्डलाधिकारी बैतूल, बी.एस. बघेल को दतिया, नाहर सिंह को बुरहानपुर, प्रीतम पाल टिटारे को उमरिया, लालजी मिश्रा को डिण्डोरी, विजय सिंह को होशंगाबाद और एम.एन. त्रिवेदी वन मण्डलाधिकारी छिन्दवाड़ा पदस्थ किया गया है।

आजीविका मिशन से रोजगार के साथ उद्योग लगाने का अवसर भी: मंत्री शुक्ल

आजीविका मिशन से रोजगार के साथ उद्योग लगाने का अवसर भी: मंत्री शुक्ल

आजीविका मिशन में सिंचाई के साथ-साथ रोजगार की कई योजनाएँ भी शामिल हैं। इससे गरीबी रेखा के नीचे जीवन-यापन करने वालों की आय में वृद्धि होगी और उन्हें उद्योग लगाने का अवसर भी मिलेगा। उक्‍त बातें उद्योग मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने शनिवार को रीवा जिले के ग्राम लोही में कौशल विकास एवं प्रशिक्षण केन्द्र के लोकार्पण अवसर पर कही। मंत्री श्री शुक्ल ने मिशन के प्रशिक्षण केन्द्र के शुभारंभ को सराहनीय प्रयास बताया। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण केन्द्र में जन-भागीदारी से बाउण्ड्री-वॉल का निर्माण कार्य करवाया जायेगा। उद्योग मंत्री ने कहा कि आजीविका मिशन से जुड़े व्यक्तियों का केन्द्र सरकार की योजना में बीमा भी करवाया जाये। उद्योग मंत्री ने केन्द्र में प्रशिक्षण की विधाओं यथा हथकरघा द्वारा वस्त्र निर्माण, आटोमेटिक मशीन द्वारा अगरबत्ती निर्माण, साबुन निर्माण, वांशिग पाउडर निर्माण, टैडी बियर निर्माण और गोबर के गमले का निर्माण संबंधी गतिविधियों का अवलोकन किया। कलेक्टर ने राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि गोबर से बने गमले एवं अगरबत्ती का कार्य प्रारंभ हो गया है।

मुख्यमंत्री ने विदिशा में पोस्ट-ऑफिस पासपोर्ट सेवा केन्द्र का किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने विदिशा में पोस्ट-ऑफिस पासपोर्ट सेवा केन्द्र का किया शुभारंभ


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को विदिशा में भारत के पहले पोस्ट-ऑफिस पासपोर्ट सेवा केन्द्र का शुभारंभ किया। इसके शुरू होने से विदिशा सहित रायसेन, गुना, अशोकनगर, सागर और दमोह जिले के नागरिकों को अब पासपोर्ट बनवाने के लिये भोपाल नहीं जाना पड़ेगा। यह लघु केन्द्र पासपोर्ट सेवा केन्द्र के रूप में कार्य करेगा। आवेदन-पत्र की जाँच के साथ ही उसकी स्वीकृति भी एक ही दिन में पूरा करने का प्रयास किया जायेगा। शेख सोहित और पवन सोनी ने आज इस कार्यालय के माध्यम से अपने पासपोर्ट बनवाए। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि केन्द्र शासन के सहयोग से मध्यप्रदेश को ऐसी सुविधाएँ मिल रही हैं, जिनके बारे में कुछ वर्ष पूर्व सोचना भी मुश्किल था। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के आत्मीय सहयोग से मध्यप्रदेश में पासपोर्ट सुविधा का विस्तार हुआ है। श्री चौहान ने कहा कि जब अटल बिहारी वाजपेयी विदेश मंत्री थे, उस समय मध्यप्रदेश को पहले पासपोर्ट कार्यालय की सुविधा मिली थी। श्री चौहान ने कहा कि पहले पासपोर्ट बनवाने के लिये 42 दिन की प्रतीक्षा-सूची थी, जो अब घटकर 03 दिन की रह गयी है। इसे और कम करने के प्रयास जारी हैं। मेडिकल कॉलेज का निर्माण तेजी से मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि विदिशा में मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। साथ ही विदिशा के पास औद्योगिक केन्द्र का भी निर्माण हो रहा है।चौहान ने उद्योगपतियों से आग्रह किया कि वे इस क्षेत्र में भी उद्योग लगायें। चौहान ने कहा कि अकेले विदिशा जिले में ओला-वृष्टि प्रभावित किसानों के खातों में 270 करोड़ की राहत और 306 करोड़ रुपये की फसल बीमा राशि जमा करवायी जा रही है। जबलपुर, ग्वालियर और सतना में भी खुलेंगे पासपोर्ट कार्यालय पिछले दिनों मुख्यमंत्री चौहान इंदौर में पासपोर्ट लघु सेवा केन्द्र के शुभारंभ समारोह में शामिल हुए थे। इसके साथ ही जबलपुर, ग्वालियर और सतना में भी लघु पासपोर्ट कार्यालय खोले जायेंगे। चौहान ने विदिशा में पासपोर्ट कार्यालय आरंभ करने में आवश्यक सुविधाएँ जुटाने के लिये मध्यप्रदेश के पोस्ट मास्टर जनरल हक को धन्यवाद दिया। सेवा केन्द्र के शुभारंभ अवसर पर उद्यानिकी राज्य मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा, सांसद लक्ष्मीनारायण यादव, विधायक कल्याण सिंह ठाकुर और वीर सिंह पवार भी उपस्थित थे।

सोमवार से विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का कार्यभार संभालेंगे अजय सिंह

सोमवार से विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का कार्यभार संभालेंगे अजय सिंह


हाल ही में कांग्रेस आलाकमान द्वारा प्रदेश विधानसभा में नये नेता प्रतिपक्ष के रूप में घोषित कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक अजयसिंह 'राहुल भैया' सोमवार, 27 फरवरी को विधानसभा में अपना कार्यभार संभालेंगे। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने बताया कि राहुल भैया सोमवार को प्रात: 10 बजे प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय, शिवाजीनगर में पार्टीजनों से मिलेंगे। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव भी मौजूद रहेंगे। पीसीसी में राहुल सिंह का स्वागत किया जाएगा और इसके बाद अरुण यादव सहित सभी पार्टीजन उन्हेें लेकर विधानसभा जायेंगे, जहां वे नये नेता प्रतिपक्ष के रूप में जारी बजट सत्र में हिस्सा लेंगे।

Thursday, 23 February 2017

यात्रा से हुआ एक नए मध्यप्रदेश को गढ़ने का काम

यात्रा से हुआ एक नए मध्यप्रदेश को गढ़ने का काम

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा सेवा यात्रा के माध्यम से एक नए मध्यप्रदेश को गढ़ने की शुरुआत हुई हैं। गाँव एवं पंचायत स्तर पर नर्मदा सेवा समितियाँ बन रही हैं। उन्होंने प्रदेशवासियों से आव्हान किया कि वे भी नर्मदा सेवा समितियों से जुड़कर नदी को प्रदूषण से मुक्त और निर्मल बनाने के साथ ही पर्यावरण संरक्षण के इस महा-अभियान को सार्थकता प्रदान करे।नर्मदा सेवा यात्रा के 74वें दिन मुख्यमंत्री धार जिले के कोटेश्वर में जन-संवाद को संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि नर्मदा मैया के आँचल को निर्मल व अविरल बनाने का प्रयास सतत जारी रहेगा। इसके लिये नर्मदा के दोनो तट पर व्यापक वृक्षारोपण किया जाएगा। इस दिशा में कार्य किए जाने से किसानों को रोजगार मिलेगा, जिससे वे समृद्ध होंगे। नर्मदा नदी के जल को प्रदूषित होने से रोकने के लिए एक बूंद भी गंदा पानी मिलने नहीं देंगे। इसके लिए बडे़ शहरों से निकलने वाले गंदे पानी को ट्रीटमेंट प्लांट के जरिए शुद्ध कर उस जल को खेतों एवं बाग-बगीचों में उपयोग किया जाएगा।मुख्यमंत्री ने खुले में शौच कर नर्मदा जल को दूषित एवं नशा नही करने तथा बेटी बचाने का संकल्प दिलवाया। उन्होंने ग्रामीणों से अपने घरों में शौचालय बनाने एवं उपयोग करने का अनुरोध किया। नर्मदा नदी में पूजन-सामग्री तथा पुष्प आदि के विजर्सन के लिए अलग से पूजन-कुंड एवं मूर्ति विसर्जन करने के लिए कुंड, शवदाह के लिये मुक्तिधाम बनाए जाने की बात कही। जन-संवाद में समाज सेवी डॉ. सुब्बाराव ने भी नर्मदा सेवा यात्रा के पवित्र उद्देश्य के प्रति अपना समर्थन व्यक्त किया और कहा कि माँ नर्मदा के प्रति इतनी बड़ी संख्या में लोगों की श्रद्धा व आस्था देखकर मन गर्वित हो गया हैं। उन्होने कहा कि जब किसी अभियान के प्रति जनता का जुड़ाव हो जाता है तो वह जन-आंदोलन का रुप ले लेता है। यह अभियान अब जन-आंदोलन का रुप ले चुका हैं और यह आगे भी अनवरत जारी रहना चाहिए। गुजरात के आनंद स्थित जामा मस्जिद के मौलाना लुकमान तारापुरी ने भी अपने विचार रखें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोटेश्वर में की माँ नर्मदा की आरती

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोटेश्वर में की माँ नर्मदा की आरती

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने भजन गायक सुश्री अनुराधा पौडवाल के साथ ग्राम कोटेश्वर के नर्मदा तट पर माँ नर्मदा की संध्या आरती की। आरती के बाद मुख्यमंत्री ने श्रद्धालुओं को माँ नर्मदा की सेवा करने का प्रण भी दिलवाया। सुश्री अनुराधा पौडवाल ने नर्मदाष्टक पर भजन की प्रस्तुति दी।श्री चौहान ने सुश्री अनुराधा पौडवाल के भजनों को सुना और श्रद्धालुओं के अनुरोध पर स्वयं भी एक भजन गाया। मुख्यमंत्री ने आरती के पहले प्राचीन शिव मंदिर में पूजा-अर्चन कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। माँ नर्मदा की आरती के बाद मुख्यमंत्री ने लोगो को सम्बोधित करते हुये घाट-निर्माण के लिए ग्रामवासियों द्वारा एक करोड़ से अधिक की राशि दान देने की भी भूरि-भूरि प्रशंसा की।इस अवसर पर पशुपालन मंत्री श्री अंतरसिंह आर्य, सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर, विधायक श्रीमती रंजना बघेल, जन-अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डेय, श्री शिव चौबे, नर्मदा सेवा यात्रा के प्रदेश प्रभारी विष्णुदत्त शर्मा, 1008 श्री अयोध्यादास जी महाराज, श्रीमती नीना वर्मा, श्री वेलसिंह भूरिया, श्री कालूसिंह पटेल सहित बड़ी संख्या में नर्मदा भक्त एवं श्रद्धालु उपस्थित थे।