परीक्षार्थी स्वेटर, जूते मोजे पहनकर परीक्षा दे सकेंगे:- मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) की रविवार को, परीक्षा (MPPSC Civil Services Exam) के एक महीने के भीतर ही रिजल्ट !

348

 

– MPPSC परीक्षा दो पालियों में सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक तथा दोपहर 2.15 से शाम 4.15 बजे तक होगी।
– प्रदेश में पीएससी की परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों के ठहरने का इंतजाम शासन कर रहा है।
– परीक्षा केंद्र पर भी चिकित्सक मौजूद रहेंगे।

 

मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग द्वारा रविवार को आयोजित होने वाली राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थी स्वेटर, जूते मोजे पहनकर परीक्षा दे सकेंगे। हालांकि, परीक्षा हॉल में जाने से पूर्व सभी परीक्षार्थियों की दो बार जांच होगी। भीषण ठंड को देखते हुए एमपीपीएससी (MPPSC) ने यह निर्णय लिया है। शुक्रवार को भोपाल कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव ने परीक्षा की तैयारियों को लेकर कमिश्नर कार्यालय में इस संबंध में बैठक ली।

उन्होंने बताया कि इस बार परीक्षा भोपाल के 69 परीक्षा केंद्रों में होगी। इसमें 31 हजार 88 परीक्षार्थी हिस्सा लेंगे। परीक्षा दो पालियों में सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक तथा दोपहर 2.15 से शाम 4.15 बजे तक होगी। परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्रों पर आधे घंटे पहले पहुंचना होगा।

प्रदेश की कमलनाथ सरकार इस बार परीक्षार्थियों की चिंता कर रही है. सरकार के निर्णय के अनुसार, प्रदेश में पीएससी (MPPSC) की परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों के ठहरने का इंतजाम अब सरकार की जिम्मेदारी है. घर से बाहर दूसरे शहर में जो भी अभ्यर्थी परीक्षा देने जा रहा है, उनके लिए प्रशासन ठहरने का इंतजाम कर रहा है.

 

जिला प्रशासन ने की सुरक्षा व ठहरने की व्यवस्था

MPPSC की परीक्षा रविवार यानी 12 जनवरी को होने जा रही है. इसके लिए भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर संभागों में परीक्षा में जिला प्रशासन ने सुरक्षा के इंतजाम किए हैं. सुरक्षा इंतजामों के बाद ऐसा पहली बार हो रहा है जब जिला प्रशासन परीक्षार्थियों के रहने की भी व्यवस्था कर रहा है.

जो भी अभ्यर्थी परीक्षा देने के लिए अपने शहर से बाहर जा रहा है और वहां उनका कोई परिजन नहीं है, तो जिला प्रशासन उनके ठहरने की सारी व्यवस्था करेगा. इसके लिए जिला प्रशासन ने ‘छू लो आसमान’ टीम को जिम्मेदारी सौंपी थी. इसके तहत भोपाल जिला प्रशासन ने दो मोबाइल नंबर-7999749017 और 9399184825 जारी किए हैं. इन नंबरों पर छात्र कॉल कर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. रजिस्ट्रेशन के बाद छात्रों के रहने की पूरी व्यवस्था जिला प्रशासन की टीम करेगी.

उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि परीक्षा केंद्रों में परीक्षार्थी को प्रवेश कड़ी सुरक्षा जांच के बाद ही दिया जाए। परीक्षार्थियों की मुख्यद्वार पर कड़ी तलाशी की जाए। कोई भी परीक्षार्थी प्रतिबंधित वस्तुएं लेकर प्रवेश न कर सके। परीक्षा कक्ष के भीतर प्रवेश देने के पूर्व परीक्षार्थियों की दोबारा तलाशी करें। साथ ही महिला परीक्षार्थियों की तलाशी केवल महिला सुरक्षा कर्मियों से कराएं।

इलेक्ट्रॉनिक उपकरण प्रतिबंधित

हाथ में पहनने वाली घड़ी, बैंड, कलावा, रक्षा सूत्र, सभी प्रकार के आभूषण, कमर में बांधने वाले बेल्ट, पर्स, वॉलेट, बालों को बांधने वाले क्लैचर, बैंड, टोपी तथा मुंह में कपड़ा बांधकर परीक्षा केंद्रों में प्रवेश प्रतिबंधित है। परीक्षा केंद्रों के भीतर मोबाइल फोन, कैल्कुलेटर, किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण एवं पठन सामग्री नहीं ले जाई जा सकेगी।

आब्जर्वरों की रहेगी परीक्षा पर नजर

परीक्षा की मॉनीटरिंग आयोग द्वारा नियुक्त किए गए तीन आर्ब्जवर (रिटायर्ड आईएएस) राजकुमार पाठक, एजे खान एवं जेएल राठौर करेंगे। इन सभी अधिकारियों के पास 23-23 केंद्रों की जिम्मेदारी होगी। ये अधिकारी 12 जनवरी को परीक्षा केंद्रों का आकस्मिक निरीक्षण भी करेंगे। केन्द्राध्यक्ष परीक्षा के दौरान मौके पर ही मौजूद रहे।

– सभी केन्द्र पर पुरुष तथा महिला आरक्षक तैनात रहेंगे।

-कार्यपालिक मजिस्ट्रेट  परीक्षा केंद्रों का आकस्मिक निरीक्षण करेंगे।

– केन्द्राध्यक्ष को परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे बाद कमिश्नर कार्यालय के कंट्रोल रूम फोन नंबर 0755-2790906/0755-2540772 परीक्षार्थियों की उपस्थिति की जानकारी देनी होगी। वे वाट्सएप ग्रुप पर जानकारी दे सकेंगे।

-परीक्षा केंद्र पर चिकित्सक भी मौजूद रहेंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here